Zindgee Kya Hai.....

Ocean-of-love

Hot Shot
Nov 13, 2014
23,099
5,146
513
ज़िंदगी है क्या,
कभी वक़्त मिले तो सौचना.!
कुछ पल की दास्ताँ,
मुद्दतो का है फ्ल्सफा !!
ज़िंदगी है क्या…..


कुछ कहते मौज-मस्ती,
कुछ समझते घर ग्रहस्थी.!
कोई सोचता दुनियाँ-दारी,
कोई बनता राय-शुमारी.!!
ज़िंदगी है क्या…..


रिश्तों की सौगात है,
पैसों की बरसात है.!
फैशों की मिठास है,
मोबाइल से आस है.!!
ज़िंदगी है क्या…..


वक़्त रहते ना जाने,
देख मौत सब पहचाने.!
मोह-माया है बेकार,
जीने का है यही सार.!!
ज़िंदगी है क्या…..


Zindgee hai kya,
kabhi waqt mile to souchna.!
Kuch pal ki dastan,
Muddaton ka hai flsafa.!!
Zindgee hai kya…..


Kuch kehate mouj-masti,
Kuch samajhte ghar grahasthee.!
Koyi sochta duniyan-dari,
Koyi banta raye-shumari.!!
Zindgee hai kya…..

Rishton ki sougat hai,
Paison ki barsat hai.!
Faishon ki mithas hai,
Mobile se aas hai.!!
Zindgee hai kya…..

Waqt rahte na jaane,
Dekh mout sab pehchane.!
Moh-maya hai bekar,
Jine ka hai yahi saar.!!
Zindgee hai kya…..
 
Top
Forgot your password?